Sunday, December 15, 2019

हिन्दू धर्म के प्रतीक चिन्हों का महत्व – IMPORTANCE OF SYMBOLS OF HINDUISM

सनातन धर्म को सबसे प्राचीन माना जाता है। इस धर्म में वेदों और पुराणों में उल्लेखनीय सिद्धांतों और धार्मिक परम्पराओं का अनुसरण...
BHEEMKUND

भीमकुंड का रहस्य – MYSTERY OF BHEEMKUND

भारत रहस्यों का देश रहा है। यहाँ पौराणिक काल के ऐसे रहस्य हैं जिनका सत्य आज तक वैज्ञानिक खोज रहे हैं। ठीक...

गरुड़ पुराण में लिखी इन 7 बातों का रखें ध्यान

18 पुराणों में से एक गरुड़ पुराण का नाम सभी ने सुना ही होगा। अक्सर इसका पाठ किसी की मौत...
परशुराम-

परशुराम को क्यों करना पड़ा 21 बार क्षत्रियों का विनाश

हमारे धर्म और शास्त्रों में कई कहानियों और महत्व को समझाया गया है, किसी भी घटना के पीछे का रहस्य निहित है। परशुराम भगवान...
कांवड़िया

कौन था पहला कांवड़िया ? – who was the first kanwadiya ?

सावन का महीना शुरू होते ही केसरिया कपड़ा पहने गंगा का पवित्र जल चढाने लाखों की तादाद में कांवड़ियाअपने अपने घरों से...
SHEETALA

शीतला माता की पौराणिक कथा

भारत के राजस्थान, गुजरात और हरयाणा राज्यों में शीतला माता की बहुत मान्यता है। यहाँ शीतला माता के अनेक मंदिर हैं। इन राज्यों के...

पौराणिक काल के शक्तिशाली विमान

इसमें कोई दो राय नहीं है की भारत हमेशा से ही तकनीक के क्षेत्र में अव्वल रहा है। आज के समय में तकनीक ने...
ऋषि विश्वामित्र

ऋषि विश्वामित्र ने भेज दिया था एक “चाण्डाल” को स्वर्ग

ऋषि विश्वामित्र ऋषि बनने से पहले एक क्षत्रिय राजा हुआ करते थे। हमारे धर्मग्रंथों में महर्षि विश्वामित्र से जुड़े कई कथाओं का...
देवी

हिन्दू धर्म की दस सबसे शक्तिशाली देवियाँ – Ten Most Powerful Goddesses in Hinduism

हिंदू धर्म में शक्ति का प्रतिनिधित्व करने वाले कई देवी-देवताओं का वर्णन किया गया है। इन् सभी पूजनीय और शक्तिशाली माना जाता है। ऐसा...
सुदर्शन चक्र

सुदर्शन चक्र का महत्त्व – Importance of Sudarshan chakra

सुदर्शन चक्र के महत्वों का हमारे शास्त्रों में विस्तार से वर्णन किया गया है। शास्त्रों में बताया गया है की चक्र चाहे...

Most Popular

ऋषि कण्डु के 907 साल संभोग करने...

हमारा देश पौराणिक समय से ही ऋषियों-महर्षियों की तपस्थली रहा है। हिन्दू धर्मग्रंथों में  कई ऐसे ऋषियों-महर्षियों का वर्णन मिलता है जिन्होंने अपने तपोबल...