राखी

राखी यानी की वो त्यौहार जिसका सभी बहाने बड़ी ही बेसब्री से इंतजार करती हैं। भाई इंतजार करें भी क्यों ना,आखिर राखी के दिन भाई उनपर प्रेम लुटाते हैं,उनसे स्नेह करते हैं और उन्हें तोहफे देते हैं। ये तोहफे वाली चीज राखी में सबसे खूबसूरत होती है। अब जब भाई आपके लिए इतना कर रहा है,आपको तोहफे दे रहा है,आप पर प्यार लुटा रहा है,आपको रक्षा का वचन दे रहा है तो आपका भी कुछ फ़र्ज़ बनता है। आपकका भी फर्ज बनता है की आप अपने राखी की थाली को बेहद खूबसूरती से सजाएँ। ऐसे सजाएँ की आपके भाई का सौभाग्य दो गुना हो जाए। इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की आपको अपने राखी की थाली कैसे सजानी है।

कुमकुम

दरअसल आपको अपनी थाली में सात चीजें रखनी ही चाहिए। इन सात चीजों में सबसे पहली है कुमकुम। कहते हैं की कुमकुम मान सम्मान का प्रतिक होता है। जब आप राखी बांधने से पहले अपने भाई के माथे पर कुमकुम से करती हैं तो इसका मतलब होता है की आप उसे मान-सम्मान दे रही हैं। और ये दुआ कर रही है की समाज में आपके भाई का मान-सम्मान हमेशा बना रहे। इसके साथ साथ कुमकुम सौभाग्य का भी प्रतिक होता है।

चावल

कुमकुम के बाद आपको थाली में चावल रखना है जिसे कुमकुम के ऊपर लगाया जाता है। चावल शुक्र ग्रह का प्रतिक होता है। और शुक्र ग्रह ही वो ग्रह है जिससे जीवन में भौतिक सुख बने रहते हैं।

राखी

तीसरी चीज है रक्षा सूत्र यानि की राखी। राखी बांधने से आप ये कामना कराती है की आपके भाई की वो सूत्र हमेशा रक्षा करे। आपके भाई पर कोई भी आफत,कोई भी विपदा ना आये।

हिन्दू धर्म के प्रतीक चिन्हों का महत्व

मिठाई

चौथी चीज जो आती है जो आपको अपनी थाली में रखनी है वो है मिठाई। राखी बांधने के बाद मिठाई खिलाकर आप अपने बिच की रिश्ते की कड़वाहट को ख़त्म करती हैं। और ये कामना करती हैं की भाई बहन का स्नेह यूँ ही बना रहे।

दीपक

इसके बाद पांचवीं चीज आती है दीपक। दीपक जलाकर मिठाई खिलाने के बाद भाई की आरती की जाती है। इससे भाई के आस-पास जीतनी भी नाकारात्मक ऊर्जा होती है उसका विनाश होता है। कहते हैं की जब आप दीपक जलाती हैं तो उस दीपक की अग्नि से आप के भाई के सभी कष्ट दूर होते हैं। और आपके भाई के आस पास सकारात्मक ऊर्जा बनती है।  आपके भाई पर लगी बुरी नजर उतर जाती है।

कलश

इसके बाद आता है कलश। आपको अपनी थाली में कलश भी रखना चाहिए। माना जाता है कलश में सभी देवी-देवताओं का वास होता है। आप इस कलश में गंगाजल रखिये। और उसी गंगाजल से कुमकुम तैयार करें और अपने भी के माथे पर तिलक करें।

नारियल

और सातवीं आखिरी चीज है नारियल। राखी की थाली में आपको नारियल रखना चाहिए। और नारियल को राखी बांधने से पहले भाई को दिया जाता है। जी हाँ सबसे पहले कुमकुम लगाया जाता है,उसके बाद कुमकुम पर चावल लगाए जाते हैं और फिर भाई को नारियल दिया जाता है। नारियल को श्रीफल कहा जाता है। श्रीफल यानी की लक्ष्मी का फल। अगर आप अपने भाई को नारियल के साथ आशीर्वाद देती हैं तो आपके भाई के जीवन में कभी लक्ष्मी की कमी नहीं होगी। उसके बाद आपको राखी बांधनी है,मिठाई खिलानी है,भाई की आरती उतारनी है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here